Breaking News
Home / top / हरियाणा : एक बार फिर IAS अधिकारी अशोक खेमका का तबादला, बोले- ‘ईमानदारी का इनाम जलालत है’

हरियाणा : एक बार फिर IAS अधिकारी अशोक खेमका का तबादला, बोले- ‘ईमानदारी का इनाम जलालत है’

हरियाणा कैडर के वरिष्ठ आईएएस ( IAS) अधिकारी के तौर पर अपने करियर में करीब 50 बार तबादला किए गए अशोक खेमका ने अपनी नई तैनाती पर बुधवार को तीखी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि ‘ईमानदारी का ईनाम जलालत है।’

हरियाणा सरकार ने बुधवार को खेमका सहित 14 आईएएस अधिकारियों का तबादला आदेश जारी किया। हरियाणा सरकार ने 1991 बैच के वरिष्ठ नौकरशाह अशोक खेमका को इस बार अभिलेख, पुरातत्व एवं संग्रहालय विभागों का प्रधान सचिव बनाया है। इससे पहले इसी साल मार्च में खेमका का ट्रांसफर करते हुए उन्हें विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग का प्रधान सचिव नियुक्त किया गया था। करीब 27 साल के करियर में 53वीं बार तबादले पर अशोक खेमका का दर्द छलक पड़ा हैं।

भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 1991 बैच के अधिकारी ने ट्वीट किया, ‘‘फिर तबादला। लौट कर फिर वहीं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कल संविधान दिवस मनाया गया। आज उच्चतम न्यायालय के आदेश एवं नियमों को एक बार और तोड़ा गया। कुछ प्रसन्न होंगे। अंतिम ठिकाने जो लगा।’’ उन्होंने कहा,‘‘ईमानदारी का ईनाम जलालत।’’ भाजपा-जननायक जनता पार्टी सरकार के करीब एक महीने पहले सत्ता में आने के बाद से यह पहला बड़ा प्रशासनिक फेरबदल है। तबादले तत्काल प्रभाव से प्रभावी हो जाएंगे। खेमका 2012 में चर्चा में आये थे, जब उन्होंने कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा से संबद्ध स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी और रियल एस्टेट कंपनी डीएलएफ के बीच हुए भूमि सौदे के दाखिल खारिज को रद्द कर दिया था।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *