Breaking News
Home / top / नए साल से पहले सीनियर सिटीजन्स को सरकार का बड़ा तोहफा

नए साल से पहले सीनियर सिटीजन्स को सरकार का बड़ा तोहफा

 नई दिल्ली : नए साल से पहले सरकार (Central Government) ने वरिष्ठ नागरिक यानी सीनियर सिटीजन (Senior Citizen) को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम  (Senior Citizen Savings Scheme) में किया बड़ा बदलाव किया है। अब सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम (Senior Citizen Savings Scheme) 2019 पहले से जारी SCSS Rules 2004 की जगह ले ली है। इसके तहत न्यूनतम जमा राशि 1,000 रुपये और अधिकतम जमा राशि 15 लाख रुपये है। इस स्कीम के तहत खाते में जमा रकम की परिपक्वता अवधि 5 साल होती है यानी अब 5 साल से पहले पैसे नहीं निकाल सकते हैं। हालांकि नए नियम का पहले से चल रहे खातों पर कोई असर नहीं पडे़गा। आपको बता दें 60 साल की उम्र में रिटायर होने वाला कोई भी व्यक्ति इस स्कीम में निवेश कर सकता है। इसके तहत, एकल या फिर जॉइंट खाता खोला जा सकता है।

गौरतलब है कि सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम (Senior Citizen Savings Scheme)  के तहत 8 फीसदी से ज्यादा ब्याज मिलता है। वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizen Savings Scheme) में निवेश की गई पूंजी पर सालाना 8.6 फीसदी का ब्याज (Interest Rate) मिलता है। हालांकि, इस ब्याज पर टैक्स देना होता है। इस स्कीम के तहत निवेश करने पर 1 अप्रैल, 2007 से इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80C के अंतर्गत टैक्स छूट का लाभ मिल रहा है। हर तीन महीने पर वित्त मंत्रालय इस स्कीम की ब्याज दर (Interest Rate) की समीक्षा करता है। इस स्कीम में ब्याज की गणना हर तिमाही होती है। इसके तहत खाताधारक के खाते में 1 अप्रैल, 1 जुलाई, 1 अक्टूबर और 1 जनवरी को पैसा डाल दिया जाता है। इस स्कीम की अवधि 5 साल की होती है और इसे आगे और तीन साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। अगर आप समय से पहले खाते से निकासी करते हैं तो इसके लिए आपको कुछ शुल्क देना होता है। इस स्कीम के तहत डिपॉजिट की अधिकतम रकम या तो रिटायरमेंट पर मिलने वाली रकम होती है या 15 लाख रुपये या फिर दोनों में से जो कम हो।

आपको बता दें कि 60 साल की उम्र में रिटायर होने वाला कोई भी व्यक्ति इस स्कीम में निवेश कर सकता है। इसके तहत, एकल या फिर जॉइंट खाता खोला जा सकता है। पोस्ट ऑफिस या फिर किसी भी बैंक में इस स्कीम की सुविधा उपलब्ध होती है। इस योजना के मुताबिक, जॉइंट या फिर सिंगल खाता खोलकर इसमें 15 लाख तक निवेश किया जा सकता है। हालांकि, इसमें निवेश की गई रकम रिटायरमेंट पर मिलने वाली रकम से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इस स्कीम में खाता खोलने के लिए अगर 1 लाख रुपये निवेश कर रहे हैं तो आप इसे कैश में दे सकते हैं। वहीं अगर यह रकम 1 लाख से ज्यादा की है तो आपको इसे चेक के रूप में जमा करना होगा।

About admin