Breaking News
Home / top / UP में हिंसा को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप शुरू, डिप्टी सीएम , अखिलेश और मायावती ने ये कहा

UP में हिंसा को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप शुरू, डिप्टी सीएम , अखिलेश और मायावती ने ये कहा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 19 जिलों में तीन दिन तक हुई हिंसा के बाद राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने आरोप लगाते हुए कहा कि हिंसा भड़काने के लिए बाहरी और विपक्षी लोग जिम्मेदार हैं।

उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर विपक्ष और उसके सदस्य लोगों को गुमराह करने का कार्य कर रहे हैं।”

उन्होंने प्रश्न किया कि मैं अखिलेश यादव जी से पूछना चाहता हूं कि सीएए और एनआरसी को लेकर उनका मूल विरोध क्या है? उनकी परिवार की सदस्य (अपर्णा यादव) ने भी एनआरसी का समर्थन किया है।

उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि हिंसा में शामिल लोगों में से अधिकतर बाहरी लोग थे। उन्हें यहां क्यों लाया गया? शर्मा ने लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि सीएए मुस्लिम विरोधी नहीं है और वे अफवाहों से बचकर रहें।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक संवाददाता सम्मेलन में हिंसा के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि भाजपा लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से भटकाने का प्रयत्न कर रही है। पहले नोटबंदी करके उसने ऐसा किया था और अब सीएए व एनआरसी के माध्यम से ऐसा करने का प्रयत्न कर रही है। वे लोगों का ध्यान किसानों की समस्याओं, बेरोजगारी, बढ़ती कीमतों और आर्थिक मुद्दों से हटाना चाहते हैं।

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने इस बीच भीम सेना के प्रमुख चंद्रशेखर को हिंसा के लिए जिम्मदार ठहराया। अपने ट्विटर हैंडल से उन्होंने कहा कि वह वह गैर-बसपा दलों के हाथों में खेलते हैं, वह उन राज्यों में हिंसा को उकसाते हैं, जहां बसपा मजबूत है।

उन्होंने कहा कि इसके बाद वह फिर आसानी से जेल चले जाते हैं। चंद्रशेखर उत्तर प्रदेश में रहते हैं, लेकिन उन्हें दिल्ली में विरोध प्रदर्शन करते हुए देखा गया जहां जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं। मेरी पार्टी के कार्यकतार्ओं को ऐसे तत्वों से सावधान रहना चाहिए।”

भाजपा के सांसद साक्षी महाराज ने हिंसा के लिए कांग्रेस पार्टी को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि वह पाकिस्तान की भाषा बोलती है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भाजपा द्वारा हिंसा करवा कर राजनीतिक लाभ लेने का आरोप लगया। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे नागरिकों को पुलिस ने निशाना बनाया।

उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री यह कहते हैं कि सरकार बदला लेगी तो इस बात से ही आप सत्ता में बैठे लोगों की मानसिकता का पता लगा सकते हैं।

About admin