Breaking News
Home / top / CAA के खिलाफ प्रदर्शन : जामा मस्जिद के पास जमा हुए लोग, ड्रोन से हो रही निगरानी

CAA के खिलाफ प्रदर्शन : जामा मस्जिद के पास जमा हुए लोग, ड्रोन से हो रही निगरानी

नयी दिल्ली : संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में कड़ाके की ठंड का सामना करते हुए सैकड़ों लोग पुरानी दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर इकट्ठा हुए. कांग्रेस नेता अलका लांबा और दिल्ली के पूर्व विधायक शोएब इकबाल भी प्रदर्शनकारियों के साथ थे. हालात पर नजर रखने के लिए दिल्ली पुलिस ड्रोन की मदद भी ले रही है.

लांबा ने सरकार पर प्रहार करते हुए कहा, देश में असल मुद्दा बेरोजगारी का है, लेकिन आप (प्रधानमंत्री) लोगों को एनआरसी के लिए लाइन में खड़ा करना चाहते हैं जैसा नोटबंदी के दौरान किया गया था. उन्होंने कहा, देश और संविधान के लिए लोकतंत्र की आवाज उठाना आवश्यक है. केंद्र सरकार तानाशाह नहीं हो सकती और लोगों पर अपना एजेंडा नहीं थोप सकती है. मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों ने नये कानून और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ नारेबाजी की. एक प्रदर्शनकारी ने कहा, इस देश को एनआरसी, एनपीआर नहीं चाहिए. इस देश को रोजगार चाहिए. इस देश को अमन और शांति चाहिए.

प्रदर्शनकारी हाथों में तख्तियां लिए हुए थे जिन पर लिखा था, संविधान बचाओ, देश मत बांटो. उन्होंने लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की. पूर्व विधायक ने कहा, जो लोग हिंसा करते हैं वे हममें से नहीं हैं. यह आंदोलन है और यह जारी रहेगा. अगर कोई हमारी शांति को भंग करता है तो वह हममें से नहीं है और वह हमारे आंदोलन को भटकाना चाहता है. हम हिंसा बर्दाश्त नहीं करेंगे.

शुक्रवार की नमाज और कुछ संगठनों द्वारा संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शनों का आह्वान करने के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी जिले के कुछ क्षेत्रों में पुलिस ने फ्लैग मार्च किया. कुछ स्थानों पर भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया है. पुलिस ने बताया कि उत्तरपूर्वी दिल्ली के सीलमपुर, जाफराबाद, वेलकम और मुस्तफाबाद इलाकों में फ्लैग मार्च किया गया. इसके अलावा, उत्तरपूर्वी दिल्ली में कानून व्यवस्था को कायम करने के लिए नजदीकी जिलों से बुलाये गये पुलिस बल और अर्द्धसैनिक बलों की 15 कपंनियों को तैनात किया गया है. हालात पर नजर रखने के लिए दिल्ली पुलिस ड्रोन की मदद भी ले रही है.

पुलिस की ओर से दी गयी जानकारी के मुताबिक जामिया नगर, जामा मस्जिद और चाणक्यपुरी में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. पुलिस उपायुक्त (उत्तरपूर्व) वेद प्रकाश सूर्य ने कहा, इलाके में कानून-व्यवस्था बनी रहे, यह सुनिश्चित करने के लिए हम अमन समिति के सदस्यों के साथ उत्तरपूर्वी दिल्ली में फ्लैग मार्च कर रहे हैं. शांति बनाये रखने में पुलिस की मदद करने की अपील भी लोगों से की जा रही है. जिले में हिंसक प्रदर्शन के बाद से दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लगी हुई है. दिल्ली पुलिस ने यहां बैनर लगाये हैं, जिनमें लोगों से कहा है कि निषेधाज्ञा लगी होने के कारण वह उत्तर प्रदेश भवन के बाहर प्रदर्शन न करें.

खबरों के मुताबिक जामिया समन्वय समिति ने शुक्रवार दोपहर यूपी भवन के बाहर प्रदर्शन करने की योजना बनायी है. इसलिए यहां पुलिस बल तैनात किया गया है और अवरोधक लगा दिये गये हैं. पुलिस ने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन के बाहर प्रदर्शन कर रहे 213 लोगों को हिरासत में लिया गया था. एक अन्य समूह ने जोर बाग के निकट दरगाह शाह मर्दान के निकट से प्रधानमंत्री के आवास तक प्रदर्शन मार्च निकालने का आह्वान किया है. उनकी मांग है कि भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को बिना शर्त रिहा किया जाये और सीएए, एनआरसी तथा एनपीआर को वापस लिया जाये.

About admin