Breaking News
Home / top / अब मैं जो भी कहता हूं उसके बारे में सचेत रहता हूं : सिद्धांत चतुर्वेदी

अब मैं जो भी कहता हूं उसके बारे में सचेत रहता हूं : सिद्धांत चतुर्वेदी

मुंबई  : फिल्म ‘गली बॉय’ से चर्चा में आए अभिनेता सिद्धांत चतुर्वेदी मीडिया से बातचीत के दौरान अपने हंसमुख स्वभाव व बेबाकी के लिए जाने जाते हैं, लेकिन उनका कहना है कि उनके शब्दों का अकसर गलत मतलब निकाला जाता है, इसलिए वह अपने शब्दों पर लगाम कसने और सचेत रहने पर ध्यान दे रहे हैं।

पिछले साल एक साक्षात्कार में इंडस्ट्री के नवागंतुक कलाकारों के साथ हुई एक बैठक में बॉलीवुड में नेपोटिज्म के उनके बयान ने बड़ी संख्या में लोगों के ध्यान को अपनी ओर आकर्षित किया था। इस कार्यक्रम में उनके साथ अनन्या पांडे भी मौजूद थीं।

सिद्धार्थ ने आईएएनएस को बताया, “अब मैं जो भी कहता हूं उसके प्रति सचेत रहता हूं। अपने दिमाग में चलने वाली बातों को सोच-समझकर बयां करता हूं क्योंकि मैंने महसूस किया है कि शायद मैं जो कहूं उसका गलत अर्थ निकाला जा सकता है। किसी भी सवाल का जवाब मस्ती या मजाक में देने का मैं आदी रहा हूं, क्योंकि असल जिंदगी में मैं ऐसा ही हूं, लेकिन इसका तात्पर्य किसी को दुख या ठेस पहुंचाने से नहीं है। मैं बस अपने दिल की बात करता हूं। हालांकि हर बार मेरे शब्दों का गलत अर्थ निकाला जाता है, इसलिए मैं सचेत हो गया हूं। देखिए मैं मजाकिया और हाजिरजवाब हूं। मैं ऐसा ही हूं।”

सिद्धांत फिलहाल फिल्म ‘बंटी और बबली 2’ की शूटिंग में व्यस्त हैं जिसमें रानी मुखर्जी और सैफ अली खान भी हैं। वरुण वी. शर्मा इसके निर्देशक हैं और आदित्य चोपड़ा इसके निर्माता हैं। यह साल 2005 में आई सुपरहिट फिल्म ‘बंटी और बबली’ का सीक्वेल है।

उन्हें यह किरदार कैसे मिला? इसके जवाब में सिद्धांत कहते हैं, “ईमानदारी से कहूं, तो मैंने इस फिल्म के लिए ऑडिशन नहीं दिया। वरुण ने मुझे इसकी कहानी सुनाई और पूछा कि क्या मैं बंटी का किरदार निभाने के लिए तैयार हूं। मैंने कहा कि क्यों नहीं, निश्चित तौर पर मैं इस फिल्म में काम करना चाहूंगा। इसी के साथ मैं यह भी कहना चाहूंगा कि फिल्म की कहानी काफी दिलचस्प है। जिन्हें साल 2005 में आई फिल्म ‘बंटी और बबली’ पसंद आई, उन्हें यह फिल्म और भी ज्यादा पसंद आएगी।”

इसी के साथ सिद्धांत फिल्मकार शकुन बत्रा के निर्देशन में बनने वाली एक और फिल्म में भी नजर आएंगे जिसमें उनके साथ दीपिका पादुकोण और अनन्या पांडे हैं।

सिद्धांत कहते हैं, “एक के बाद एक मेरी कई परियोजनाएं हैं। मैं एक किरदार से दूसरे किरदार की जिंदगी को जी रहा हूं। एक टाईम था, जब मैं वेला था, अब तो बहुत काम कर रहा हूं। ईश्वर की मेहरबानी है।”

About admin