Breaking News
Home / top / शाहीन बाग़ प्रदर्शनाकारियों से वार्ताकार साधना ने कहा, रास्ता बंद रहा तो नहीं कर पाएंगे मदद

शाहीन बाग़ प्रदर्शनाकारियों से वार्ताकार साधना ने कहा, रास्ता बंद रहा तो नहीं कर पाएंगे मदद

नई दिल्ली : शाहीन बाग  में CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं से बातचीत की प्रक्रिया जारी है. शनिवार को सुप्रीम कोर्ट की तरफ से नियुक्त वार्ताकारों में से एक साधना रामचंद्रन शाहीन बाग़ पहुंची. उन्होंने प्रदर्शनाकारियों से कहा कि अगर रास्ता बंद रहा तो हम मदद नहीं कर पाएंगे.  साधाना ने कहा कि वह मीडिया से बात नहीं करेंगी और केवल महिलाओं से ही बात करेंगी.

वहीं प्रदर्शनकारी महिलाओं ने वार्ताकार से कहा, ‘जो हमारे ऊपर गलत टिप्पणियां हो रही हैं उस पर रोक लगनी चाहिए. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम भी चाहते हैं कि 9 नंबर रोड खुल जाए. उन्होंने कहा कि कल जब यह रोड खुली तो दिल्ली पुलिस ने बंद क्यों कर दिया.’

इससे पहले शुक्रवार को  शाहीनबाग में वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों की बातचीत में सुरक्षा का मुद्दा अहम रहा है और जब सुरक्षा को लेकर बात रखी गई तो प्रदर्शनकारियों ने कहा कि दिल्ली पुलिस लिखित में आश्वासन दे। उन्होंने कहा कि सुरक्षा को लेकर हमें भरोसा नहीं है और अगर कुछ घटना होती है तो कमिश्नर से लेकर बीट कॉन्स्टेबल को जिम्मेदार माना जाए और बर्खास्त किया जाए।

साधना रामचंद्रन ने कहा, “एक बात बतायें दूसरी तरफ की सड़क किसने घेरी है?” तो प्रदर्शनकारियों की तरफ से आवाज आई हमने नहीं घेरी। इसके बाद वार्ताकार रामचंद्रन ने कहा कि अच्छा आप ये कहना चाहती हैं कि सड़क पुलिस ने घेरी है आपने नहीं!

इसके बाद एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि जब पुलिस ने सड़क ही आगे से बंद कर रखी है तो हमने इसे फिर अपनी सुरक्षा की वजह से बंद कर दी। वार्ताकार साधना ने अपनी बात तो आगे बढ़ाते हुए कहा कि अगर पुलिस के द्वारा बंद रास्ते खुल जाएंगे तो क्या रास्ते की दिक्कतें खत्म हो जाएगी? तो प्रदर्शनकारियों की तरफ से कहा गया कि पुलिस द्वारा बंद रास्ते खुलते हैं तो रास्ते का समाधान निकल जाएगा।

About admin