Breaking News
Home / प्रादेशिक ख़बरें / दिल्ली / केजरीवाल ने आईबी कर्मी अंकित शर्मा के परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि देने की घोषणा की

केजरीवाल ने आईबी कर्मी अंकित शर्मा के परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि देने की घोषणा की

नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों के दौरान जान गंवाने वाले खुफिया ब्यूरो के कर्मी अंकित शर्मा के परिवार को सोमवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि देने की घोषणा की। केजरीवाल ने कहा कि शर्मा के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि ‘अंकित शर्मा आईबी के जांबाज अधिकारी थे। दंगो में उनका नृशंस तरीके से कत्ल कर दिया गया। देश को उन पर नाज है। दिल्ली सरकार ने तय किया है कि उनके परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि और उनके परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी देंगे। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।’ उल्लेखनीय है कि अंकित शर्मा का शव चांदबाग इलाके में एक नाले से बरामद किया गया था।

साजिश के तहत मार डाला गया आईबी

बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में सीएए विरोध के नाम हुए दंगों में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के अधिकारी अंकित शर्मा को साजिश के तहत पीट-पीटकर मार डाला गया था। इतना ही नहीं हत्या के बाद उसके शव नाले में फेंक दिया गया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अंकित को जहां मारा गया था, वहां मुख्यमंत्री केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) के मुसलमान पार्षद मोहम्मद ताहिर हुसैन का घर है और उससे बड़ी मात्रा में दंगों का सामान मिला है। उस घर की छत पर ढेर सारे पेट्रोल बम, बोरियों में भरे पत्थर और तेजाब की थैलियां मिली। साथ ही एक वीडियो में ताहिर को साफ देखा गया कि वह छत पर हाथ में डंडा लिए दंगाइयों के साथ खड़ा है। ताहिर पर अंकित शर्मा के हत्या का आरोप है। फिलहाल वह फरार है।

2017 में आईबी में भर्ती हुए थे अंकित शर्मा

अंकित शर्मा तीन साल पहले यानी 2017 में आईबी में भर्ती हुए थे और उनके पिता आईबी में ही हेड कांस्टेबल हैं। हालांकि, अंकित का परिवार मूल रूप से यूपी के मुजफ्फरनगर का रहने वाला था। मुजफ्फरनगर के शामली इलाके में ही उनका अंतिम संस्कार किया गया। दिल्ली हिंसा मामले पर सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने भी अंकित शर्मा की हत्या पर चिंता जाहिर की थी।

About admin