Breaking News
Home / top / अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ताजमहल सहित ASI के सभी ऐतिहासिक स्थलों पर महिलाओं की एंट्री रहेगी फ्री

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ताजमहल सहित ASI के सभी ऐतिहासिक स्थलों पर महिलाओं की एंट्री रहेगी फ्री

नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर ताजमहल के साथ-साथ भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के सभी ऐतिहासिक स्थलों पर महिलाओं की एंट्री फ्री रहेगी. ये ऐलान कंद्रीय टूरिज्म कल्चर मिनिस्टर प्रहलाद पटेल ने शनिवार को किया है.

बता दें कि देश में एएसआई के तहत 3,693 केंद्र संरक्षित स्मारक और स्थल है. जिसमें उत्तर प्रदेश में 745, कर्नाटक में 506 और तमिलनाडु में 413 एएसआई-अनुरक्षित स्थलों की संख्या है. 8 मार्च को अंतराष्ट्रीय महिला दिवस एएसआई स्मारक और स्थलों पर घूमने जाना महिलाओं के लिए लाभकारी होगा. इस दिन महिलाओं को एंट्री से छूट दी गई है.

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एक मज़दूर आंदोलन की उपज है. जो वर्ष 1908 में हुआ था. उस वक्त लगभग 15 हज़ार महिलाओं ने अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में Protest March निकालकर, महिलाओं के लिए काम के घंटे कम करने की मांग की थी.

इसके अलावा उनकी मांग थी, कि उन्हें बेहतर वेतन दिया जाए और मतदान करने का अधिकार भी दिया जाए. इसके एक साल बाद Socialist Party of America ने इस दिन को पहला राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित कर दिया. इसके बाद इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर Celebrate करने का Idea जर्मनी की एक महिला Clara Zetkin ने दिया, जो जर्मनी की एक Activist थीं.

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुरुआत एक नेक मकसद से की गई थी. लेकिन, सौ से ज्य़ादा वर्ष बीत जाने के बाद भी भारत सहित दुनिया भर में महिलाओं की एक बहुत बड़ी आबादी, आज भी अपना हक पाने के लिए संघर्ष कर रही हैं. भारत समेत पूरी दुनिया में महिलाओं को मजबूत बनाने के लिए शिक्षा को सबसे अहम माना गया है लेकिन सच ये है कि शिक्षा के मामले में महिलाएं पुरुषों के मुकाबले अब भी काफी पीछे हैं.

About admin