Breaking News
Home / top / अब तीनों सेनाओं का होगा एक प्रमुख, कैबिनेट ने दी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद को मंजूरी

अब तीनों सेनाओं का होगा एक प्रमुख, कैबिनेट ने दी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद को मंजूरी

नई दिल्ली:  सुरक्षा मामलों पर मंत्रिमंडल समिति ने चीफ आफ डिफेंस स्टाफ :सीडीएस: के सृजन को मंगलवार को मंजूरी प्रदान कर दी . आधिकारिक सूत्रों ने इस आशय की जानकारी दी . 1999 में कारगिल समीक्षा समिति ने सरकार को एकल सैन्य सलाहकार के तौर पर चीफ आफ डिफेंस स्टाफ के सृजन का सुझाव दिया था . सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा मामलों पर कैबिनेट समिति ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल के नेतृत्व वाली उच्च स्तरीय समिति की रिपोर्ट को मंजूरी दे दी . इस समिति ने सीडीएस की जिम्मेदारियों और ढांचे को अंतिम रूप दिया था. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त को घोषणा की थी कि भारत में तीनों सेना के प्रमुख के रूप में सीडीएस होगा.

इसको लेकर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद के सृजन को मंजूरी दे दी है. रक्षा स्टाफ के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया जाने वाला अधिकारी फोर स्टार जनरल होगा और सैन्य मामलों के विभाग का प्रमुख भी होगा. सशस्त्र बल सैन्य मामलों के प्रबंधन के लिए उपयुक्त विशेषज्ञता वाले सैन्य मामलों के दायरे में आएंगे. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ इसे संभालेंगे. इसकी जानकारी सरकार के सूत्रों से मिली है.

सैन्य मामलों के विभाग में नागरिक और सैन्य अधिकारियों का मिक्स होगा. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ सैन्य मामलों के प्रबंधन संभालेंगे. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ तीनों सेना प्रमुखों सहित किसी भी सैन्य कमान का प्रयोग नहीं करेंगे. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ त्रिकोणीय सेवाओं के मामलों पर रक्षा मंत्री के प्रधान सैन्य सलाहकार के रूप में कार्य करेंगे. तीनों प्रमुख अपने संबंधित सेवाओं से संबंधित मामलों पर रक्षा मंत्री को सलाह देना जारी रखेंगे.

सीडीएस पद एक फोर स्टार जनरल द्वारा आयोजित किया जाएगा और वह सीडीएस के कार्यालय को समाप्त करने के बाद किसी भी सरकारी कार्यालय को रखने के लिए पात्र नहीं होगा. वह सीडीएस के पद से हटने के बाद 5 साल की पूर्व स्वीकृति के बिना कोई निजी रोजगार भी नहीं रखेगा.

रक्षा कर्मचारियों के प्रमुख के तहत सैन्य मामलों का विभाग संयुक्त/थिएटर कमांड की स्थापना के माध्यम से संचालन में संयुक्तता लाकर, संसाधनों के इष्टतम उपयोग के लिए सैन्य आदेशों के पुनर्गठन की सुविधा प्रदान करेगा. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ की भी दूसरी भूमिका होगी, जो चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी के स्थायी अध्यक्ष होंगे. इस भूमिका में, सीडीएस को एकीकृत रक्षा स्टाफ द्वारा समर्थित किया जाएगा.

About admin