Breaking News
Home / top / उत्तर भारत में पारे ने तोड़े पिछले रिकार्ड, पारा शून्य तक पहुंचा

उत्तर भारत में पारे ने तोड़े पिछले रिकार्ड, पारा शून्य तक पहुंचा

उत्तर भारत में भीषण ठंड ने दशकों पहले के रिकार्ड तोड़ते हुये कोल्ड डे तथा शीतलहर के कहर के बीच अधिकांश स्थानों पर पारा शून्य तक रिकार्ड किया गया।

मौसम केन्द्र के अनुसार क्षेत्र में पिछले चौबीस घंटों में प्रचंड शीतलहर तथा कोल्ड डे ने इतना कहर बरपाया कि पारा शून्य डिग्री दर्ज किया गया। अगले चौबीस घंटों में हरियाणा में हालात ऐसे ही बने रहने के आसार हैं। दो तथा तीन जनवरी को ओलावृष्टि, गर्जन और बारिश की संभावना है। क्षेत्र में कहीं कहीं हल्की बारिश के आसार हैं।

क्षेत्र में आज सुबह तक पारा शून्य डिग्री दर्ज किया गया। करनाल, लुधियाना, हलवारा, पठानकोट, आदमपुर, बठिंडा का पारा हिमाचल प्रदेश के पारे से कम शून्य डिग्री रहा। चंडीगढ़ पिछले चार दिनों में दूसरी बार तीन डिग्री तक गिर गया। अंबाला दो डिग्री ,नारनौल ,हिसार , रोहतक ,पटियाला ,अमृतसर ,फरीदकोट और दिल्ली का पारा क्रमश: दो डिग्री तक गिर गया।

श्रीनगर शून्य से कम चार डिग्री, जम्मू का दो डिग्री रहा। हिमाचल प्रदेश में अगले चौबीस घंटों में बारिश तथा हिमपात के आसार हैं। शिमला एक डिग्री, उना एक, सोलन एक, कांगडा दो  मंडी तीन, धर्मशाला दो, भुंतर शून्य, सुंदरनगर शून्य, मनाली शून्य से दो डिग्री कम, नाहन आठ डिग्री और कल्पा शून्य से कम चार डिग्री तक नीचे चला गया। केलांग में पारा शून्य से कम आठ डिग्री रहा।

जनजातीय इलाकों में आम जनजीवन ठहर सा गया है तथा अगले चौबीस घंटों में हिमपात होने से हालात और बिगड़ेंगे।  पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से प्रदेश में अनेक स्थानों पर बारिश और बर्फबारी की संभावना है। मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी की है।  एक जनवरी से कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बर्फबारी तथा  और तीन जनवरी को कई स्थानों पर बारिश और बर्फबारी होने की संभावना बनी हुई है।

यह जानकारी मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक डॉ मनमोहन सिंह ने विशेष बुलेटिन में बताया कि यह सिलसिला 4 जनवरी तक जारी रहेगा। इससे 2 और 3 जनवरी को दिन के तापमान में गिरावट आएगी। उन्होंने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि पर्यटकों और लोगों को मौसम को ध्यान में रखते हुए बाहर निकले।

उन्होंने कहा कि चक्रवाती हवाओं का संचलन मध्य पाकिस्तान और इसके आसपास के क्षेत्रों से हरियाणा और अन्य क्षेत्रों की ओर 3.1 और 3.6 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से आगे बढ रहा है। इस दौरान 2 और 3 जनवरी 2020 को जिला कुल्लू, चंबा, लाहौल और स्पीति, शिमला, कांगड़ा और किन्नौर में अनेक स्थानों पर हल्की से औसत बर्फबारी होने की संभावना है। बर्फबारी के कारण, चंबा, कुल्लू, लाहौल और स्पीति, शिमला और किन्नौर जिलों में कुछ स्थानों पर यातायात बाधित हो सकता है।

About admin