Breaking News
Home / top / कोरोना: AIIMS ने शुरू किया हेल्पलाइन नंबर, 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे डॉक्टर, 23 नए मामलों की पुष्टि

कोरोना: AIIMS ने शुरू किया हेल्पलाइन नंबर, 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे डॉक्टर, 23 नए मामलों की पुष्टि

नई दिल्ली : देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 23 नए मामलों के सामने आने के बाद अबतक 107 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें नौ डिस्चार्ज किए गए मरीज और दो मौतों के मामले भी शामिल हैं।

केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के विशेष सचिव संजीव कुमार ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए केन्द्र सरकार की तैयारियों के बारे में रविवार को यहां पत्रकारों को बताया कि पिछली अपडेट से लेकर अब तक 23 मामलों का पता चला है और अब देश में कोरोना के 107 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें से नौ डिस्चार्ज किए गए मरीज और दो मौत के मामले भी शामिल हैं। महाराष्ट्र से 17, तेलंगाना से दो, राजस्थान से एक और केरल से तीन मामले मिले हैं। कोरोना के 93 मामलों में 31 मामले ऐसे हैं जिनमें मरीजों की आयु 60 वर्ष से अधिक थी । इनमें दो मौत के मामले भी हैं जो अन्य बीमारियों से ग्रसित थे। इन सभी मामलों में संपर्क व्यक्तियाें की ट्रेसिंग काफी सख्ती से की जा रही है और अभी तक 4000 से अधिक संपर्क व्यक्तियोंं काे निगरानी में रखा गया है।

उन्होंने बताया कि देश में लोगों में कोरोना संक्रमण को लेकर जो बैचेनी फैल रही है उसका निराकरण करने के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) दिल्ली ने 24 घंटों काम करने वाली हेल्पलाइन शुरू की है और इसका मोबाइल नंबर 9971876591 है और यह चिकित्सकों द्ववारा चलाई जा रही है। कुमार ने बताया कि सभी भारतीयों के लिए कोरोना का पहला और दूसरा कन्फर्मेटरी टेस्ट को पूरी तरह निशुल्क कर दिया गया है और देश में कोरोना की पर्याप्त टेस्टिंग क्षमता मौजूद है तथा अभी तक प्रतिदिन कुल क्षमता का केवल 10 प्रतिशत ही इस्तेमाल किया गया है।

कुमार ने बताया कि देश में कोरोना के मामलों के प्रबंधन और नियंत्रण के लिए जनहित में अनेक निर्णायक कदम उठाए जा रहे हैं। इटली के मिलान से एयर इंडिया की फ्लाइट आज सुबह दिल्ली पहुंच गई है और इसमें लाए गए सभी 218 यात्रियों को आईटीबीपी कैंप, छावला में ले जाया गया है । चिकित्सा मानकों के अनुसार इन्हें क्वारेंटाइन में रखा गया है। इसके अतिरिक्त ईरान से निकाले गए 236 व्यक्तियों का तीसरा बैच भी भारत पहुंच गया है और इन्हें जैसलमेर के सेना सुविधा केन्द्र में क्वारंटाइन में रखा गया है। ईरान से यहां लाए जाने से पहले इनकी जांच की गई थी और फिलहाल इनमें से किसी में भी रोग के लक्षण नहीं है।

स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि कोराेना प्रभवित देशों से आए कुल 256 यात्रियाें को त्रिवेंदम, दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरू और हैदराबाद में क्वारंटाइन में रखा गया है। चीन के वुहान और जापान से निकाले गए सभी व्यक्तियों की कोरोना जांच की गई है और ये सभी निगेटिव पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 80,56,365 अतिरिकत एन-95 मास्कों और निजी सुरक्षा उपकरणों की खेप खरीदने का आदेश दे दिया गया है।

महाराष्ट्र के बुलढाणा से कल जिस व्यक्ति की मौत का मामला सामने आया था , वह पहले निजी अस्पताल में भर्ती था और वहीं उसके रक्त एवं अन्य नमूनों की जांच की गई थी जिनमें उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब देश में आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को सेल्फ डिक्लेरेशन फार्म भरना होगा और यह निर्णय मंत्रिमंडल की 13 मार्च को हुई बैठक में लिया गया था।

About admin